Default Image

Months format

Show More Text

Load More

Related Posts Widget

Article Navigation

Contact Us Form

Terhubung


आदिवासी युवा विनिमय कार्यक्रम आदिवासी युवाओं के लिए केंद्र सरकार द्वारा प्रदान किया गया अनूठा अवसर, Tribal Youth Exchange Program is a unique opportunity provided by the Central Government to the tribal youth,


चक्रधरपुर। नेहरू युवा केंद्र चाईबासा, युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय तथा सी आरपीएफ 197 बटालियन, 60 बटालियन एवं 174 बटालियन, गृह मंत्रालय के संयुक्त तत्वावधान मे 15  वी जनजातीय युवा आदान-प्रदान कार्यक्रम दूर-दराज के गांवों में रहने वाले जनजातीय युवाओं के लिए बनाया गया एक अनूठा कार्यक्रम है। जिन्हें पश्चिमी सिंहभूम जिले के 260 युवाओं को अपने जीवन में पहली बार दूसरे राज्य का दौरा करने, उच्च परंपरा और संस्कृति को देखने और ऐतिहासिक और प्रमुख स्थानों की यात्रा करने, दोस्ती करने का अवसर मिला। विभिन्न राज्यों के अन्य आदिवासी युवा इसमें दूसरे राज्यों में रहने वाले आदिवासियों को उनकी भाषा और संस्कृति सीखने का भी मौका मिलता है। 


197 सीआरपीएफ बटालियन के कमांडेंट पी के जोहरी सीआरपीएफ परिसर में आयोजित 15वें जनजातीय युवा विनिमय कार्यक्रम के ब्रीफिंग सत्र (प्री-ट्रेनिंग मूल्यांकन) को संबोधित करते हुए कहा कि पश्चिमी सिंहभूम जिले के दूरदराज के गांवों से 260 आदिवासी युवक एवं युवतियाँ जो टोंटो, गोइलकेरा, बंदगांव, सदर एवं गूदडी प्रखंड से उनकी पहचान सीआरपीएफ द्वारा की गई थी, जिन्हें मंत्रालय के समन्वय में युवा मामले और खेल मंत्रालय के नेहरू युवा केंद्र संगठन द्वारा आयोजित 15 वें जनजातीय युवा विनिमय कार्यक्रम में भाग लेने के लिए प्रतिनियुक्त किया गया जो माह अगस्त 2023 से माह जनवरी 2024 तक 12 टीम के रूप मे  देहरादून, चंडीगढ़, वराणाशी, बेंगलुरु, भोपाल, भुवनेश्वर, सूरत, केरला, अहमदाबाद, नाशिक, नागपुर एवं मैसुरु मे भ्रमण के लिए भेजा गया!हर टीम को भ्रमण मे भेजे जाने से पूर्व ब्रीफिंग सत्र का आयोजन किया गया।


जिसमें केंद्र के जिला युवा अधिकारी  क्षितिज एवं लेखा एवं कार्यक्रम सहायक गिरिजानंद रत्नकार ने कार्यक्रम की विस्तारपूर्वक जानकारी दी और युवाओं को कार्यक्रम मे होने वाली विभिन्न प्रतिस्पर्धाओं मे भाग लेने के लिए प्रेरित किया। डिप्टी कमांडेंट बिश्वास ने भाग ले रहे बच्चों का मनोबल बढ़ाया और बदलते मौसम को देखते हुए स्वास्थ्य के ऊपर ध्यान रखने को बोला! इस अवसर पर  क्षितिज ने कहा कि एनवाईकेएस ने इस वित्तीय वर्ष में 12 विभिन्न राज्यों में आयोजित होने वाले 15वें जनजातीय युवा विनिमय कार्यक्रमों में भाग लेने के लिए जिले से 260 आदिवासी युवाओं को भेजने का अवसर प्रदान किया है। 


उन्होंने आगे कहा कि भाग लेने वाले आदिवासी युवाओं को टी शर्ट, थर्मल इनर, टोपी, ट्रैकसूट, 2 जोड़ी मोजे के साथ जूते दिए जाएंगे। इसके अलावा बस/ट्रेन द्वारा आने-जाने के लिए परिवहन की व्यवस्था और यात्रा डीए प्रदान किया जाएगा। आयोजक राज्य एनवाईकेएस शिविर अवधि के दौरान मुफ्त बोर्डिंग और आवास प्रदान करने के अलावा रेलवे स्टेशन/बस स्टेशनों पर प्रतिभागियों को प्राप्त करने और भेजने की व्यवस्था करेगा। सभी प्रतिभागियों को प्रमाणपत्र प्रदान किया जाएगा। सप्ताह के दिनों के कार्यक्रम के दौरान जागरूकता व्याख्यान सत्र, समूह चर्चा, योग और शारीरिक व्यायाम, खेल-कूद, स्वच्छता अभियान, वृक्षारोपण, क्षेत्र का दौरा, इंटरैक्टिव सत्र, सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं और भाषण प्रतियोगिता आयोजित की जायेंगी।

No comments:

Post a Comment

GET THE FASTEST NEWS AROUND YOU

-ADVERTISEMENT-

NewsLite - Magazine & News Blogger Template

Domain