Default Image

Months format

Show More Text

Load More

Related Posts Widget

Article Navigation

Contact Us Form

Terhubung


कोल्हान विश्वविद्यालय की विभिन्न समस्याओं को लेकर सांसद गीता कोड़ा ने राज्यपाल को सौंपा मांग पत्र, MP Geeta Koda submitted a demand letter to the Governor regarding various problems of Kolhan University.


कोल्हान  विश्वविद्यालय चाईबासा में कुलपति, प्रति कुलपति, कुल सचिव, वित्त अधिकारी एवं रजिस्टार  की स्थाई नियुक्ति कि रखी मांग

चक्रधरपुर। सांसद गीता कोड़ा ने सोमवार को राजभवन में  राज्यपाल से भेंट कर कोल्हान विश्वविध्यालय में रिक्त पदों पर टीचर नियुक्ति की मांग के समर्थन में पत्र सौपा। माननीय सांसद नें वर्तमान समय में बढ़ती शिक्षा गुणवंता कि जरूरतों  को पूरा करने और छात्रों के उज्जवल भविष्य के लिए शिक्षा के क्षेत्र में विकसित कार्यक्रमों की मांग की, एंव इस संबंध में सिहभुम लोकसभा क्षेत्र के तहत स्थित कोल्हान विश्वविद्यालय के महत्वपूर्णता पर चर्चा की गई।

ज्ञातव्य  हो कि कोल्हान  विश्वविद्यालय के 54 डिग्री कॉलेज में 80000 विद्यार्थी स्नातक एवं स्नातकोत्तर की पढ़ाई कर रहे हैं, कोल्हान विश्वविद्यालय में कुलपति, प्रति कुलपति, कुल सचिव, वित्त अधिकारी एवं रजिस्टर के पदों पर रिक्तियां के कारण छात्रों और कर्मचारियों को कई समस्या का सामना करना पड़ रहा है। इस संबंध में उच्च शिक्षा के क्षेत्र में नई ऊर्जा और नेतृत्व की आवश्यकता के लिए राजपाल  का ध्यान आकृष्ट करते हुए सांसद गीता कोड़ा ने निवेदन करते हुए संबंधित पदों पर नियुक्ति के लिए समर्थ उम्मीदवारों की चयन प्रक्रिया शीघ्रता से पूर्ण करने की मांग रखी।

ज्ञातव्य हो कि कोल्हान  विश्वविद्यालय क्षेत्र जनजातीय बहुल क्षेत्र होने के साथ ही बहुत ही पिछड़ा क्षेत्र है यह  क्षेत्र  कोल्हान  विश्वविद्यालय के माध्यम से उच्च शिक्षा के दृष्टिकोण से बहुत महत्वपूर्ण है, कोल्हान  विश्वविद्यालय के कुलपति का पद मई 2023 से रिक्त है और प्रतिकूलपति का पद भी पिछले जून 2023 से रिक्त पड़ा हुआ है, जबकि वित्त अधिकारी का प्रभार भी प्रतिकूलपति के पास में होता हैं, तथा इस विश्वविद्यालय के रजिस्टार भी इस महीने के अंत तक सेवानिवृत  होने के कारण रजिस्टार का पद भी रिक्त हो जाएगा ऐसी स्थिति में कोल्हान विश्वविद्यालय अंतर्गत पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं को आवेदन करना, डिग्री प्रमाण पत्र निर्गत करना, डिग्री लेना, प्रमाण पत्र की सत्यता जैसी समस्या का सामना करना पड़ रहा है तथा विश्वविद्यालय में प्रशासनिक दृष्टिकोण से शैक्षणिक संस्था की दैनिक कार्यों, वित्तीय कार्यों, वार्षिक प्रतिवेदन, शिक्षा की गुणवता का मूल्यांकन कार्य प्रभावित हो रहा है।

महामहिम राज्यपाल महोदय ने विश्वविद्यालय की समस्याओं को गंभीरता से लिया है एवं महत्वपूर्ण समस्याओं के निदान पर पहल करने की आश्वस्त किया।

No comments:

Post a Comment

GET THE FASTEST NEWS AROUND YOU

-ADVERTISEMENT-

NewsLite - Magazine & News Blogger Template

Domain